Blog Url Change Karne Se Kya Hota Hai ?

BLOGGER URL CHANGE KARNE SE KYA HOTA HAI

दोस्तों अगर आप एक शुरुआती ब्लॉगर है तो आज का यह पोस्ट आपके लिए बहुत ही सादा फायदेमंद साबित होगा. दोस्तों आज इस ब्लॉग पोस्ट पर हम लोग इन विषयों पर चर्चा करेंगे, कि अगर अपने आप का किसी एक ब्लॉग पोस्ट का URL को बदल देते हो तब आपको कौन से मुसीबतों का सामना करना पड़ सकता है. और या फिर किसी एक ब्लॉग पोस्ट के URL को बदल देना वाकई में कोई मुसीबत खड़ी करती है या फिर नहीं. तो अगर आपके पास एक ब्लॉग है, जिसको आपने शायद BLOGSPOT या फिर WORDPRESS केसरिया मैनेज करते हो, तब शायद यह पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको आपके किसी ब्लॉग पोस्ट के URL या फिर PARMALINK के बारे में कुछ जानकारी मिलेगी जो कि आगे जाकर आपकी ब्लॉगिंग जर्नी पर आपके काम में आएगा.

दोस्तों, मैं 3 साल के अधिक समय से ब्लॉगिंग कर रहा हूं. इसलिए मुझे लगता है कि मेरे पास ब्लॉगिंग का कुछ तजुर्बा है जो कि मैं आपके साथ बांट सकता हूं. जिससे आपको भी कुछ फायदा हो जाए. और जिससे आप अपने ब्लॉग को भी अच्छी तरीके से मैनेज कर पाऊं. क्योंकि मुझे भी पता है कि शुरुआत के दिन मुझे भी बहुत सारे दिक्कतों का सामना करने को मिला था. और तब मुझे एक अच्छा गाइड भी नहीं मिला था, जो कि मुझे मेरा समस्या भी हल को बता कर मेरी थोड़ा मदत कर देता. इसलिए मैंने तब सोचा था कि जब मैं खुद एक अच्छा ब्लॉगर बनूंगा तब मैं दूसरे ब्लॉगर को भी मदद करने के बारे में सोच लूंगा. इसलिए मैंने अपने इस ब्लॉग DEVELOPERTIRU.ME पर ब्लॉगिंग से संबंधित पोस्ट बगैरा डालता हूं. और मुझे पूरा उम्मीद है अगर आप हाल ही में अपना ब्लॉगिंग जर्नी को शुरू किए हो तो मेरा यह ब्लॉग पोस्ट आपका मदद जरूर कर पाएगा.


मुझे विश्वास है, अगर आप एक शुरुआती ब्लॉगर है और हाल ही में आपको अपना ब्लॉग के किसी एक पोस्ट का URL को बदलना बहुत ही जरूरी हो चुका है, तब इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपका हर एक सवाल का जवाब आपको मिल जाएगा. आप एक ही सिद्धांत ले सकोगे अपने ब्लॉग पोस्ट के URL को बदलने के बारे में. क्योंकि इस ब्लॉग पोस्ट में मैं जितना हो सके उतना जानकारी आपके साथ शेयर करने की कोशिश करूंगा.

URL क्या होता है

दोस्तों, URL का पूरा नाम है यूनिफॉर्म रिसोर्स लोकेटर ( Uniform Resource Locator). इसका सीधा सा मतलब है यह चीज, यह पता लगाने की कोशिश करता है कि आप जो वेबपेज को देखना चाहते हो वह पूरे इंटरनेट पर कहां पर है. इसीलिए आपका देखना हर कोई वेब पेज का url हमेशा अलग होगा एक दूसरे से. क्योंकि दोनों वेब पेज का लोकेशन कभी भी एक नहीं हो सकता. और गूगल सर्च जिनके सर पर चढ़, जब आपका ब्लॉग पोस्ट दिखाता है, तब उसके साथ-साथ आपके ब्लॉग पोस्ट के ऊपर आपका ब्लॉग का URL भी वहां पर दिखता है. और गूगल पर एक ब्लॉग पोस्टको अच्छा पोजीशन पर दिखाने के लिए, उसका URL बहुत ही सादा अहमियत रखता है.

Blog Url क्यों महत्वपूर्ण है

दोस्तों, किसी भी ब्लॉग का सबसे अहम हिस्सा होता है उस ब्लॉग में लिखा हुआ पोस्ट. और एक ब्लॉगर का काम होता है, अपने ब्लॉग की पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा लोगों के पास पहुंचा देना. और यह काम किया जाता है उस ब्लॉग पोस्ट के URL को लोगों को शेयर करके. इसीलिए किसी एक ब्लॉग पोस्ट के URL उस ब्लाक के लिए बहुत ही अहम भूमिका निभाती है. तो अगर कभी भी उस ब्लॉग पोस्ट के URL बदल जाए तब, उस ब्लॉग के दर्शक वो पुराने वाले लिंक या फिर URL के इस्तेमाल से उस पोस्ट को फिर से पर नहीं पाएगा. क्योंकि उसका URL बदल चुका है. इसीलिए किसी भी ब्लॉग बी ब्लॉग पोस्ट की यूआरएल को, बिना कोई वजह के बदलना नहीं चाहिए. इससे ब्लॉग का ही नुकसान होता है. और ब्लॉग का नुकसान होना मतलब ब्लॉगर का ही नुकसान होना.

Blog Url को क्यों बदलना पड़ता है

दोस्तों, बिना कोई वजह आपको कभी भी अपना ब्लॉग पोस्ट की यूआरएल को बदलना नहीं चाहिए. क्योंकि इससे आपका ब्लॉग पोस्ट की ट्रैफिक में बदलाव आ सकती है. लेकिन कभी केवल हम लोग को अपने किसी एक ब्लॉग पोस्ट के URL बदलना बहुत जरूरी हो जाता है. जैसे कि मान लीजिए आपका किसी एक लॉक पोस्ट है, और वह आउटडेटेड हो चुका है. तब आपको उस पोस्ट को अपडेट करने के लिए या फिर उसमें कुछ और ज्यादा जानकारी डालने के लिए और उसको एक नया पोस्ट जैसा बनाने के लिए आपको अपना ब्लॉग पोस्ट की व्हाईल को बदलना पड़ सकता है. अभी के बाद बहुत अनुभवी ब्लॉगर लोग सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के लिए अपने ब्लॉग पोस्ट के URL को बदल देता है. ऐसे बहुत से कारण हो सकते हैं जिसके लिए आपको अपना ब्लॉग पोस्ट की यूआरएल को बदलना पड़ सकता है. लेकिन मेरा आप लोगों के लिए यही सुझाव रहेगा, अगर आप हाल ही में अपना ब्लॉग चालू किए हो, और आपका ब्लॉग में उतरता सैफी कि नहीं आ रही है तो, आप को शुरुआती दिनों में अपने ब्लॉग पोस्ट कि URL को ज्यादा बदलना नहीं चाहिए.

Blog Url Change Karne Se Kya Hota Hai

दोस्तों, आपको तो यह जरूर पता होगा कि एक ब्लॉग पोस्ट के लिए सिर्फ एक ही यूआरएल होता है, अगर आपने किसी दूसरे यूआरएल को उस ब्लॉग पोस्ट की यूआरएल पर रीडायरेक्ट नहीं किए हो तो, उस ब्लॉग पोस्ट के यूआरएल के बिना उस ब्लॉग पोस्ट को नहीं पढ़ा जा सकता है. तो इसी तरह अगर आपका किसी एक ब्लॉग पोस्ट बहुत ज्यादा पॉपुलर हो जाता है, तब आपके ब्लॉग के दर्शकों के पास उस ब्लॉग पोस्ट का यूआरएल होगा, और आपने भी अपने ब्लॉग पोस्ट की यूआरएल को बहुत सारे सोशल मीडिया पर शेयर किए होंगे, लोगों के पास उसका यूआरएल व्हाट्सएप पर भी होगा. अब इसी जगह पर अगर आपने अपने ब्लॉग पोस्ट की यूआरएल को बदल देते हो. तब आपके ब्लॉग के दर्शक, उस पुराने URL से आपके ब्लॉग पोस्ट को फिर से नहीं देख पाएगा. तो अब हम लोग जान लेते ब्लॉग की URL को चेंज करने से क्या होता है.

1. ट्रैफिक में रुकावट

दोस्तों अगर अपने, अचानक से ही अपने ब्लॉग की URL को या फिर अपने किसी एक ब्लॉग पोस्ट की URL को बदल देते हो, तब आपके दर्शक फिर से आपके ब्लॉग या फिर आपके ब्लॉग पोस्ट को देख नहीं पायेगा उस पुराने वाले URL को इस्तेमाल करके. और अगर उनके पास आपका नया ब्लॉग URL ना हो तब वह आपके ब्लॉग को फिर से दोबारा कभी भी नहीं देख पाएगा. तो इससे आपके ब्लॉग की ट्रैफिक में रुकावट आ सकती है. और काफी दिनों तक आपके ब्लॉग पर ट्रैफिक नहीं भी हो सकती है.

2. SEO मैं दिक्कतें

दोस्तों अगर आप ऐसे ही बार-बार अपने ब्लॉग की यूआरएल, या फिर आपके किसी ब्लॉग पोस्ट की URL को बदलते रहते हो तब गूगल को यह पता लगाने में बहुत दिक्कत होगा, आपके ब्लॉग या फिर ब्लॉग पोस्ट का असल में इंटरनेट पर लोकेशन क्या है. और शायद आगे जाकर आपको आपके ब्लॉग को गूगल के सर्च रिजल्ट पर देखने को ही ना मिले. पर बहुत सारे अनुभवी ब्लॉगर इसको बहुत ही कायदे से करती है. जिससे उनके ब्लॉग के SEO पर यूआरएल को बदलने पर भी कोई असर नहीं होता है. क्योंकि उन लोगों के पास बहुत सारा अनुभव होता है इस ब्लॉगिंग की दुनिया को लेकर. तो अगर आप एक अनुभवी ब्लॉगर नहीं हो हाल ही में अपने ब्लॉग को शुरू किए हो तब आपको जरूर इंटरनेट से या फिर किसी अनुभवी ब्लॉगर के सायता लेना चाहिए.

3. कैनॉनिकल URL की दिक्कत

दोस्तों अगर आप बार-बार अपने किसी ब्लॉग या फिर ब्लॉग पोस्ट की URL को बदलते रहते हो तब गूगल को यह समझने में बहुत दिक्कत होगा आपके ब्लॉग या फिर ब्लॉग पोस्ट के असली URL कौन सा है. और अगर आप उसके साथ अपने ब्लॉग की कॉन्टेंट को नहीं बदलते हो तब गूगल यह समझ लेगा, यह सभी यूआरएल का काम एक ही है. और गूगल सभी यूआरएल को कैनॉनिकल यूआरएल के तौर पर समझेगा. अगर अपने-अपने ब्लॉग की URL को ऐसे बार बार बदल चुके हो, और आपको अब ऐसे कैनॉनिकल URL के दिक्कत आ रही है आपके ब्लॉग पर, तब आप जरूर किसी अनुभवी ब्लॉगर का सहायता लीजिए.

Blog Url Change Karne ke baad kya karna chaiye

दोस्तों, कभी के बाद जरूरत के वक्त हमें अपने ब्लॉग के URL को बदलना पड़ सकता है. और कभी कबार अपने किसी एक ब्लॉग पोस्ट को अपडेट करने के लिए भी उसका URL को हम लोग बदल देते हैं. लेकिन एक अनु कभी ब्लॉगर इस चीज को बहुत ही अच्छी तरीके से करता है. जिससे उसका कोई ट्रैफिक ना घटे और उसके ब्लॉग का SEO मैं भी कोई दिक्कत ना आए. दोस्तों, में कोई बड़ा ब्लॉगर तो नहीं हो, लेकिन हमें बहुत सालों से ब्लॉगिंग कर रहा हूं. इसलिए मैं आपको इस बारे में कुछ सुझाव दे सकता हूं. और मुझे उम्मीद है मेरा यह सलाह आपका जरूर काम में आएगा.

1. रीडायरेक्ट कीजिए

दोस्तों अगर आपने हाल ही में अपने ब्लॉग की यूआरएल को चेंज किए हैं, तो मैं आपको जरूर यह कहूंगा कि आप जल्दी से अपने पुराने वाले यूआरएल को नए वाले यूआरएल पर रीडायरेक्ट कर दीजिए. इसे अगर आपका कोई दर्शक पुराने वाले URL को ओपन करता है, तो भी वह अपने आप आपके नया लोक पर पहुंच जाएगा. और ध्यान से आपको जरूर 301 रीडायरेक्ट ही करना है. इससे आपका ट्रैफिक भी बरकरार रहेगा, और आपके ब्लॉग की SEO पर भी कोई दिक्कत नहीं आएगा.

2. वेबमास्टर टूल का इस्तेमाल

दोस्तों अब आपको अपने वेबमास्टर टूल का इस्तेमाल करना पड़ेगा. क्योंकि अब ऐसा हो चुका है यह आप अभी आपके पुराने वाले URL और नए वाले URL, यह दोनों यूआरएल से ही अपने ब्लॉग को ओपन कर सकते हो. और अब गूगल को यह समझने में बहुत ही सादा दिक्कत होगा कि आपके ब्लॉग का असल में यूआरएल कौन सा है. और यह दिक्कत आपके ब्लॉग के दर्शक को भी होगा यह पता लगाने में आपकी ब्लॉग का असली यूआरएल कौन सा है. इसीलिए आपको एक काम करना पड़ेगा, आपको वेबमास्टर टूल को ओपन करके, वहां पर रिमूवल सेक्शन में जाकर आपको अपने ब्लॉग की पुराने वाले URL को सबमिट कर देना है. इससे कोई भी गूगल पर आपकी पुराने वाले यूआरएल को और दोबारा नहीं देख पाएगा. और गूगल पर सब आपके ब्लॉग या फिर ब्लॉग पोस्ट का नया वाला यूआरएल ही दिखाएगा.

अंतिम निर्णय

मुझे पूरा उम्मीद है कि इस पोस्ट को आखिर तक पढ़ने के बाद आपको इस विषय में एक अच्छा खासा ज्ञान मिल चुका होगा. मैंने इस विषय के बारे में जितना हो सके उतनी जानकारी आपको देने की कोशिश किया है. मगर फिर भी, कुछ जानकारी मुझसे छूट गई हो, तो आप वह बात मुझे कमेंट के द्वारा जरूर बताएं. अगर आपको इस ब्लॉग पोस्ट को पढ़ने के बाद इस विषय में आपको जो जानना था वह आप जान चुके हो, तो वह कमेंट के द्वारा हमें बताएं. और आपके दोस्तों के साथ भी इस ब्लॉग पोस्ट को शेयर करें शायद उसका भी कुछ मदद हो जाए. अगर फिर भी आपके पास कुछ और सुझाव है तो आप जरूर हमें वह बताएं, मैं आप के बाद जानने के लिए बहुत उत्सुक हूं. और मैं जितना जल्दी हो सके आपके हर कोई सवाल का जवाब कमेंट सेक्शन में देने की कोशिश भी करूंगा.

1 thought on “Blog Url Change Karne Se Kya Hota Hai ?”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *